DMK नेता करुणानिधि के जाने से देश को गहरा आघात लगा- पीएम नरेंद्र मोदी

New Delhi. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने डीएमके नेता करुणानिधि के निधन पर शोक व्यक्त किया है। प्रधानमंत्री ने उन्हें महान विचारक, निष्ठावान लेखक और शानदार व्यक्तित्व वाला बताया है।

मंगलवार शाम अपने एक ट्वीट के जरिये प्रधानमंत्री ने डीएमके नेता और तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री करुणानिधि के मौत पर दु:ख जताया है। अपने ट्वीट में पीएम ने कहा कि करुणानिधि की मौत की खबर सुनकर वे आहत हैं। उन्होंने कहा है कि करुणानिधि भारत के सबसे वरिष्ठ नेताओं में से एक थे। अपने ट्वीट में पीएम ने लिखा कि आज देश ने एक दूरदर्शी नेता और शानदार विचारक को खो दिया है।

उन्होंने कहा कि करुणानिधि का पूरा जीवन गरीबों और शोषितों के कल्याण में समर्पित रहा। प्रधानमंत्री ने करुणानिधि को क्षेत्रीय आकांक्षाओं और राष्ट्रीय प्रगति के लिए खड़े होने वाला नेता बताया। दिवंगत नेता के साथ अपनी मुलाकात का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि नीतियों के बारे में करुणानिधि की समझ और समाज कल्याण के लिए उनकी मंशा काफी सकारात्मक थी। प्रधानमंत्री ने करुणानिधि को लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए समर्पित नेता बताया। उन्होंने कहा कि करुणानिधि आपातकाल के धुर विरोधी नेताओं में शुमार रहे हैं।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी ट्वीटर के जरिये तमिलनाडु के पूर्व सीएम की मृत्यु पर गहरा दु:ख जताया है। उन्होंने कहा कि करुणानिधि के निधन पर देश को गहरा सदमा लगा है। राष्ट्रपति ने लिखा- श्री एम करुणानिधि के निधन के बारे में सुनकर दुख हुआ। “कलैनार” के नाम से लोकप्रिय वह एक सुदृढ़ विरासत छोड़ कर जा रहे हैं जिसकी बराबरी सार्वजनिक जीवन में कम मिलती है। उनके परिवार के प्रति और लाखों चाहने वालों के प्रति मैं अपनी शोक संवेदना व्यक्त करता हूँ।

बता दें कि मंगलवार की शाम डीएमके नेता और तीन बार तमिलनाडु के सीएम रह चुके एम. करुणानिधि का निधन हो गया। उनकी मृत्यु की खबर से तमिलनाडु सहित पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई। वह लंबे समय से बीमार चल रहे थे। 94 वर्ष की उम्र में उन्होंने चेन्नई के कावेरी अस्पताल में अंतिम सांस ली। बता दें कि तमिल राजनीति को दो साल के अंतराल में दूसरा बड़ा झटका लगा है। इससे पहले एआई़डीएमके प्रमुख जे जयाललिता का लंबी बीमारी के बाद देहांत हो गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *