IAS अॉफिसर बन रिक्शेवाले के बेटे ने बताई कहानी- मेरे गंदे कपड़े और फटे जूते अब मायने नहीं रखते

New Delhi: मैं क्लास 4 में था। मेरे माता-पिता मुझे स्कूल से निकालना चाहते थे, ताकि मैं अपने छोटे भाई-बहन और चचेरे भाई की तरह मजदूरी कर कमा सकूं…लेकिन मेरे …

Read More