मेरे पास न ऑफिस है, न स्टाफ..फिर भी लोगों की मदद करता रहूंगा

New Delhi: हैदाराबाद के एक फ्लाईओवर के नीचे दोपहर ठीक 12:30 बजे अजीब सी हलचल होती है। सबको एक पतले-दुबले इंसान के आने का इंतजार रहता है। बेघर भिखारी हो …

Read More