50 साल में पहली बार केरल में हुई ऐसी मूसलाधार बारिश, एकसाथ खोलने पड़े 24 बांध

New Delhi: केरल में लगातार बारिश हो रही है। केरल में बारिश ने इस कदर तबाही मचाई है कि करीब 24 बांधों को खोलना पड़ गया है। पिछले 24 घंटे से लगातार हो रही बारिश ने सारे बांधों को तोड़ दिया है। आसमानी आफत ने केरल की तस्वीर ही बदल दी है।

राज्य में बीते 50 सालों में पहली बार बारिश से इतनी भीषण तबाही हुई है। लबालब भर जाने के बाद इडुक्की डैम के दरवाजे खोल दिए गए। इसकी वजह से आसपास के इलाके डूब गए। एनडीआरएफ के अलावा सेना, नौसेना और वायु सेना की टीमें लोगों को बचाने में जुटी हैं। डैम से छोड़े गए पानी की वजह से नालों में उफान आ गया है। सेना और नौसेना की टीम लगातार रेस्क्यू कर रही है। गांव, खेत-खलियान सब डूबे हुए हैं। इस बारिश ने 54,000 से ज्यादा लोगों की जिंदगी बर्बाद कर दी। भारी संक्या में लोग बेघर हुए हैं। मुन्नार में 60 लोगों के फंसे होने की खबर है, जिनमें से 20 विदेशी बताए जा रहे हैं।

हालात इस कदर बिगड़ चुके हैं कि पूरा केरल पानी-पानी हो गया है। यहां तक कि हालात ऐसे भी हो गए कि इतिहास में पहली बार 24 बांधों को एक साथ खोलना पड़ा है। इस आपदा के बीच केरल के सांसदों का दल शुक्रवार को राजनाथ सिंह से मिला और केंद्र की मदद मांगी। प्रधानमंत्री मोदी भी केरल के मुख्यमंत्री से बात करके पूरी मदद का भरोसा दे चुके हैं। पिछले दो दिन से लगातार हो रही बारिश और बांधों से छोड़े जा रहे पानी की वजह से पेरियार नदी उफान पर है। जिसकी वजह से कोच्चि इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर भी पानी भरने का खतरा बढ़ गया और कुछ घंटों के लिए एयरपोर्ट पर विमानों की आवाजाही रोकनी पड़ी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *