अभी-अभी: मद्रास हाईकोर्ट ने सुनाया फैसला- मरीना बीच पर ही होगा करुणानिधि का अंतिम संस्कार

New Delhi: मद्रास हाईकोर्ट ने फैसला सुना दिया है। हाईकोर्ट ने मरीना बीच पर करुणानिधि के अंतिम संस्कार की अनुमति दे दी है।

डी.एम.के प्रमुख और तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके एम. करूणानिधि का मंगलवार शाम 6 बजकर 10 मिनट पर चेन्नई के कावेरी अस्पताल में 94 वर्ष की उम्र में आखिर सांस ली। आज तमिलनाडु समेत पूरा भारत शोक में डूब गया है। इस खबर के सार्वज़निक होते ही उनके चाहने वालों समेत डी.एम.के समर्थकों की भीड़ सड़क पर उतर गयी जिसके बाद उनके पार्थिव शरीर को मरीना बीच पर दफ़नाने की मांग उठने लगी ।

एम. करूणानिधि पार्थिव शरीर को मरीना बीच पर दफनाने को लेकर डी.एम.के कुछ सदस्य तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के.पलानीस्वामी से मिले मगर उन्होंने जमीन देने से साफ इनकार कर दिया जिसके बाद समर्थकों ने हंगामा शुरू कर दिया और मामला मद्रास हाईकोर्ट तक पहुंच गया।

तमिलनाडु सरकार ने गांधी मंडप के पास दो एकड़ जमीन देने का प्रस्ताव रखा था जिससे गुस्साए समर्थकों ने हंगामा करना शुरू कर दिया जिससे मामला कोर्ट तक पहुंच गया। मद्रास हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति के.चंद्रू ने कहा कि इस मामले को नगर निगम, (निगम) अधिनियम 1919 के तहत संभालना चाहिए।

निगम का कहना है कि वह शहर के निवासियों के लिए पूरी इमानदारी से कार्य करने को बाध्य है मगर 1975 में जब विपक्षी नेता कामराज़ का निधन हुआ था तब जमीन को लेकर द्रविडियन और राष्ट्रीय समूह के बीच बहुत हंगामा हुआ था जिसके बाद उन्हें दफनाने के लिए गांधी मंडप में ही जमीन दी गयी।

आज करुणानिधि के पार्थिव शरीर को अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चेन्नई पहुंच गए हैं, वह कुछ ही देर में करुणानिधि के अंतिम दर्शन करेंगे। उनके अलावा भी कई नेता आज चेन्नई पहुंच सकते हैं। सुपरस्टार रजनीकांत, कमल हासन ने भी करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह समेत कई हस्तियों ने ट्वीट कर करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *