मित्रों,राफेल के घालमेल-तालमेल की सही जानकारी 125 करोड़ देशवासियों को मिलनी चाहिए कि नहीं- लालू

LIVE BIHAR DESK : राफेल सौदे में शुक्रवार को फ्रांस के पूर्व राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद के सनसनीखेज खुलासे के बाद आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने अपने ही अंजाद में पीएम मोदी पर निशाना साधा है। लालू प्रसाद यादव ने ट्विटर के जरिए पीएम मोदी पर हमला बोलेते हुए कहा  कि मित्रों, राफेल सौदे के घालमेल और तालमेल की सही जानकारी 125 करोड़ देशवासियों को मिलनी चाहिए कि नहीं? मिलनी चाहिए की नहीं? लालू ने मोदी को पूंजीपति मिलनसार प्रधानमंत्री कहकर तंज कसते हुए कहा अगर वह राफेल डील में गुनहगार और भागीदार नहीं है तथा ईमानदार चौकीदार हैं तो इस राफेल सौदे को लेकर वह सच क्यों नहीं बताते?

इस बीच बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी मोदी सरकार पर जोरदार हमला किया है। तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि राफेल सौदे के लेकर पीएम नरेंद्र मोदी, मनोहर पर्रिकर, निर्माला सीतारमण और अरुण जेटली ने देश की जनता से बार-बार झूठ बोला है। उन्होंने ट्वीट किया, कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उनके दो रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर, निर्मला सीतारमण और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने देश की जनता से बार-बार झूठ बोला है। उन्होंने न केवल देश को गुमराह किया बल्कि करोड़ों के विश्वास को तोड़ दिया। पीएम को इस्तीफा देना चाहिए।


वहीं राहुल गांधी के हमले के जवाब में सरकार की ओर से केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को मैदान में उतारा गया। इस दौरान उन्होंने राहुल गांधी पर पलटवार किया और राफेल की जानकारी सार्वजनिक करवाकर पाकिस्तान की मदद करने का आरोप लगाया। इसके बाद कांग्रेस ने फिर पलटवार किया और कांग्रेस की ओर से रणदीप सुरजेवाला ने मोर्चा संभाला। रविशंकर के बयान पर पलटवार करते हुए सुरजेवाला ने कहा, कि राफेल को लेकर राहुल गांधी के सवालों पर पीएम मोदी तो चुप हैं, लेकिन रक्षा मंत्रालय और कानून मंत्री बयान दे रहे हैं। कानून मंत्री गैर कानूनी बात कर रहे हैं। वो अहंकार में डूबे हुए हैं। वह रिलायंस के वकील रह चुके हैं। इस मामले में रक्षामंत्री भी सामने नहीं आ रही हैं। इस दौरान उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी, रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण और रविशंकर प्रसाद को राफेल डील के दस्तावेज सार्वजनिक करने की चुनौती दी।

Source: bihari

Source: wplivebihar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *